झांसी की रानी – सुभद्राकुमारी चौहान की हिंदी कविता, हिंदी, हिंगलिश और अंग्रेजी में अनुदित | Queen of Jhansi – Hindi Poetry of Subhadra Kumari Chauhan In Hindi, Hinglish & English Translated

BolteChitra 3 – झांसी की रानी – सुभद्राकुमारी चौहान की हिंदी कविता | Queen of Jhansi – Hindi Poetry of Subhadra Kumari Chauhan

झांसी की रानी - सुभद्राकुमारी चौहान की हिंदी कविता, हिंदी, हिंगलिश और अंग्रेजी में अनुदित | Queen of Jhansi - Hindi Poetry of Subhadra Kumari Chauhan In Hindi, Hinglish & English Translated images

हिंदी में :

कानपूर के नाना की, मुँहबोली बहन छबीली थी,
लक्ष्मीबाई नाम, पिता की वह संतान अकेली थी,
नाना के सँग पढ़ती थी वह, नाना के सँग खेली थी,
बरछी, ढाल, कृपाण, कटारी उसकी यही सहेली थी।सुभद्राकुमारी चौहान

In Hinglish or
Phonetic :

Kanpur key Nana ki muhn boli bahen chhaveeli thi,
Lakshmibai naam, pita ki woh santaan akeli thi,
Nana key sangh padhti thi woh Nana key sangh kheli thi
barchhi, dhal, kripan, katari, uski yehi saheli thi.Subhadra Kumari Chauhan

In English :

She was as dear to the Nana (Nana Ghunghupant ) of Kanpur as her real sister,
Her name was Laxmibai and she was the only daughter of her parents,
She had been with Nana from her early childhood, since she was a school student.
Spear, knife, sword, axe (all different types of weapons used in her time) were her companions all the time.Subhadra Kumari Chauhan

निवेदन :

अगर आपको हमारे झांसी की रानी – सुभद्राकुमारी चौहान की हिंदी कविता | Queen of Jhansi – Hindi Poetry of Subhadra Kumari Chauhan अच्छे लगे या आपको कोईझांसी की रानी – सुभद्राकुमारी चौहान की हिंदी कविता | Queen of Jhansi – Hindi Poetry of Subhadra Kumari Chauhan के English Translationमें कोई त्रुटि मिली तो कृपया हमे जरुर अपने comments के माध्यम से बताएं और हमे Facebook और Whatsapp Status पे Share और Like भी जरुर करे जिससे अधिक से अधिक लोगों तक हिंदी केझांसी की रानी – सुभद्राकुमारी चौहान की हिंदी कविता | Queen of Jhansi – Hindi Poetry of Subhadra Kumari Chauhan पहुच सके.अगर आप किसी विशेष विषय पर लेख चाहते है तो कृपया हमे ईमेल या सुझाव फॉर्म के द्वारा बताये.आप फ्री E-MAIL Subscription द्वारा हर नयी पोस्ट को अपने E-MAIL में प्राप्त कर सकते है.

इन्हें भी देखे :   Short Hindi Poems for Teachers Day 2017 - तुम्हे प्रणाम गुरु जी - शिक्षक दिवस पर हिंदी कविता 2017

सभी नयी प्रविष्टिया इमेल में प्राप्त करे ! सब्सक्राइब करे.

Leave a Reply