दुआ – फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ | Dua – Faiz Ahmad Faiz

बोलतेचित्र 2 – दुआ – फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ | Dua – Faiz Ahmad Faiz

दुआ - फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ | Dua - Faiz Ahmad Faiz images

हिंदी में :

आइए अर्ज़ गुज़ारें कि निगार-ए-हस्ती
ज़हर-ए-इमरोज़ में शीरीनी-ए-फ़र्दा भर दे
वो जिन्हें ताब-ए-गिराँ-बारी-ए-अय्याम नहीं
उन की पलकों पे शब ओ रोज़ को हल्का कर दे

अर्ज़ गुज़ारें = निवेदन करना में समय देना, निगार-ए-हस्ती = जीवन का चित्र, ज़हर-ए-इमरोज़ = आज का जहर, शीरीनी-ए-फ़र्दा = कल की मिठास, ताब-ए-गिराँ-बारी-ए-अय्याम = रात-दिन का बोझ उठाने की ताकत, शब ओ रोज़ = रात और सुबह.फ़ैज़ अहमद फ़ैज़

In Hinglish or
Phonetic :

Aaie arza guzaaren ki nigaar-e-hastee
zahar-e-imaroza men sheereenee-e-phardaa bhar de
vo jinhen taab-e-giraan-baaree-e-ayyaam naheen
un kee palakon pe shab o roza ko halkaa kar de

Arza guzaaren = nivedan karanaa men samay denaa. nigaar-e-hastee = jeevan kaa chitr. zahar-e-imaroza = aaj kaan jahar. sheereenee-e-phardaa = kal kee miṭhaas. taab-e-giraan-baaree-e-ayyaam = raat-din kaa bojh uṭhaane kee
taakat. shab o roza = raat aur subah.Faiz Ahmad Faiz

जेहरा निगाह की आवाज में

निवेदन :

अगर आपको हमारे दुआ – फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ | Dua – Faiz Ahmad Faiz अच्छे लगे या आपको कोईदुआ – फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ | Dua – Faiz Ahmad Faiz के Hindi Translationमें कोई त्रुटि मिली तो कृपया हमे जरुर अपने comments के माध्यम से बताएं और हमे Facebook और Whatsapp Status पे Share और Like भी जरुर करे जिससे अधिक से अधिक लोगों तक हिंदी केदुआ – फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ | Dua – Faiz Ahmad Faiz पहुच सके.अगर आप किसी विशेष विषय पर लेख चाहते है तो कृपया हमे ईमेल या सुझाव फॉर्म के द्वारा बताये.आप फ्री E-MAIL Subscription द्वारा हर नयी पोस्ट को अपने E-MAIL में प्राप्त कर सकते है.

इन्हें भी देखे :   कहाँ जाओगे - फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ | Kahaan jaa_oge - Faiz Ahmad Faiz

सभी नयी प्रविष्टिया इमेल में प्राप्त करे ! सब्सक्राइब करे.

Leave a Reply